ITI Full Form in Hindi और आईटीआई क्या है?

हाय दोस्तों, आज हम जिस टॉपिक के बारे में बताने जा रहे हैं वह है आईटीआई का फुल फॉर्म (ITI Ka Full Form) हममें से बहुत से ऐसे लोग होते हैं जो आईटीआई का नाम तो सुनते हैं लेकिन उनको आईटीआई की पूरी जानकारी नहीं होती है. जैसे – आईटीआई क्या है, ITI का हिंदी में फुल फॉर्म क्या होता है, ITI Course के लिए योग्यता (Eligibility) क्या होनी चाहिए, full form of ITI, आईटीआई में कितना समय और खर्चा लगता है, ट्रेड (trade) को कैसे चुने, और ITI करने के बाद Job इत्यादि बहुत से सवाल लोगों के मन में रहते हैं और इन्हीं सारे सवालों के जवाब हेतु मैंने या लेख बनाया है इसलिए इसे अंत तक जरूर पढ़ें.

आईटीआई का फुल फॉर्म

ITI का फुल फॉर्म होता है Industrial Training Institute जिसे हिंदी में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान होता है जो कि Engineering और Non-engineering तकनीकी क्षेत्र में प्रशिक्षण प्रदान करती है जिसका मुख्य उद्देशय छात्रों को तकनीकी ज्ञान से अवगत करा कर उन्हें आत्मनिर्भर बनाना यह एक प्रकार का Institute होता है ITI को IT के रूप में भी जाना जाता है.अब आपको ITI Ka Full Form पता हो गया होगा. तो चलिए जानते हैं आईटीआई है क्या ?

ITI (आईटीआई) क्या है

ITI भारत में एक माध्यमिक विद्यालय के रूप से जाना जाता है जो कि भारत सरकार के प्रशिक्षण महानिदेशालय डीजीटी (१९५०) के तहत स्थापित किया गया है जो कि छात्रों को प्रशिक्षण देती है जहां छात्र अपनी योग्यता और रूचि के अनुरूप अपनी Skill को Develop कर सकता है।

ITI मैं अलग-अलग Trade भी होती हैं ट्रेड के हिसाब से Course की अवधि भी अलग-अलग होती है जो कि 6 महीने, 1 वर्ष, 2 वर्ष में पूरा होता है इसके लिए आठवीं 10वीं 12वीं कक्षा में उत्तीर्ण होना अनिवार्य है

ITI का Hindi में Full Form

हिंदी में ITI की मीनिंग होती है “औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान” जो कि भारतीय सरकार के श्रम एवं नियोजन मंत्रालय द्वारा संचालित संस्थान है जो छात्रों को Industry में कार्य करने योग प्रशिक्षण (Training) प्रदान करती हैं

ITI ka Full Form – Industrial Training Institute

I Industrial
T Training
I Institute

ITI के पाठ्यक्रम की सूची (List)

आईटीआई के पाठ्यक्रम को मुख्य दो भागों में अलग-अलग बांट दिया गया है

  1. Engineering Course: इसमें आप गणित और भौतिक विज्ञान के विषय सीखेंगे
  2. Non-Engineering Course: इसमें आप दैनिक जीवन से संबंधित चीजें सीखेंगे

ITI Courses after 10th

Name of the CourseStreamDuration
Fitter EngineeringEngineering2 years
Draughtsman (Mechanical) EngineeringEngineering2 years
Diesel Mechanic EngineeringEngineering1 year
Draughtsman (Civil) EngineeringEngineering2 years
Pump OperatorEngineering1 year
Motor Driving-cum-Mechanic EngineeringEngineering1 year
Machinist EngineeringEngineering1 year
Information Technology & E.S.M. EngineeringEngineering2 years
Turner EngineeringEngineering2 years
Refrigeration EngineeringEngineering2 years
Mech. Instrument EngineeringEngineering2 years
Electrician EngineeringEngineering2 years
Mechanic Motor Vehicle EngineeringEngineering2 years
Mechanic Radio & T.V. EngineeringEngineering2 years
Mechanic Electronics EngineeringEngineering2 years
Surveyor EngineeringEngineering2 years
Foundry Man EngineeringEngineering1 year
Sheet Metal Worker EngineeringEngineering1 year
Dress MakingNon-engineering1 year
Secretarial PracticeNon-engineering1 year
Hair & Skin CareNon-engineering1 year
Manufacture Foot WearNon-engineering1 year
Fruit & Vegetable ProcessingNon-engineering1 year
Bleaching & Dyeing Calico PrintNon-engineering1 year
Letter Press Machine MenderNon-engineering1 year
Commercial ArtNon-engineering1 year
Leather Goods MakerNon-engineering1 year
Hand CompositorNon-engineering1 year

ITI Courses after 8th

Name of the CourseStreamDuration
Wireman EngineeringEngineering2 years
Pattern Maker EngineeringEngineering2 years
Plumber EngineeringEngineering1 year
Welder (Gas & Electric) EngineeringEngineering1 year
Carpenter EngineeringEngineering1 year
Weaving of Fancy FabricNon-engineering1 year
Cutting & SewingNon-engineering1 year
Book BinderNon-engineering1 year
Embroidery & Needle WorkerNon-engineering1 year
Mechanic TractorNon-engineering1 year

ITI में एडमिशन (Admission) के लिए योग्यता

आईटीआई में प्रवेश पाने हेतु कुछ जरूरी योग्यताएं होनी चाहिए तभी वह आईटीआई में अपना एडमिशन ले सकता है जैसे कि 8वीं 10वीं 12वीं कक्षा में उत्तीर्ण होना अनिवार्य है दसवीं कक्षा में कम से कम 35% अंक होने चाहिए और प्रवेश पाने वाले इच्छुक की आयु 14 से 40 वर्ष तक की ही होनी चाहिए. Student राज्यों के हिसाब से दी गयी उनकी official websites पर आवेदन कर सकते हैं.

आईटीआई के लिए ट्रेड चुनना

आईटीआई का कोर्स करने से पहले छात्रों के सामने यह सवाल समस्या बन कर खड़ा हो जाता है कि trade को कैसे चुने किस ट्रेड से अपना कोर्स कंप्लीट करें जिससे अच्छी स्किल डेवलप हो जाए और नौकरी भी अच्छी मिल जाए पर ट्रेड हमेशा अपनी योग्यता और रूचि के हिसाब से ही चुनना चाहिए, ट्रेड चुनने से पहले अच्छे से सोच विचार कर लेना चाहिए जिससे आगे चलकर कोई समस्या ना हो क्योंकि आपको इस बात का विशेष ध्यान रखना होगा कि सभी ट्रेड सभी आईटीआई इंस्टिट्यूट नहीं कराती हैं और यह एडमिशन लेने से पहले पता कर लेना चाहिए कि किस इस्टीट्यूट में कौन सी ट्रेड हैं.

आईटीआई में फीस कितनी लगती हैं

आईटीआई की फीस हमारे अंको पर निर्भर करती है यदि कोई छात्र छात्रा अच्छे नंबर से करता है तो उसे सरकारी कॉलेज मिल जाता है जहां पर फीस बहुत ही कम होती है और यदि सरकारी कॉलेज नहीं मिलता है तो उसे किसी प्राइवेट कॉलेज में एडमिशन लेना पड़ता है जहां पर उसे कुछ ज्यादा फीस देनी पड़ती है 15000 से 30000 तक की भी हो सकती है ग्रामीण व शहरी क्षेत्र के हिसाब से ट्रेड और कॉलेज के हिसाब से फीस भी कम ज्यादा हो जाती हैं.

आईटीआई के कोर्स में क्या सिखाया जाता है

जैसा कि आपको पता हो गया होगा कि यह एक आईटीआई औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान हैं जहां पर छात्रों को विभिन्न प्रकार के उद्योगों के बारे में शिक्षा प्रदान की जाती है। जिससे छात्र अपनी रुचि अनुसार trade लेकर उसमें वह अपनी विशेष स्किल डेवलप कर आत्मनिर्भर बन सकता है। क्योंकि आईटीआई में छात्रों के Theoretical ज्ञान पर जोर न देकर प्रैक्टिकल ज्ञान पर अधिक जोर दिया जाता है। ताकि छात्र उस फील्ड में अच्छे से कार्य करने योग्य बन जाए क्योंकि विद्यार्थियों को इसमें इंडस्ट्री के लिए तैयार किया जाता है। जिसमें ट्रेनिंग के बाद सीधा नौकरी के लिए तैयार हो जाता है।

आईटीआई मैं लड़के और लड़कियों दोनों के लिए बहुत सारे कोर्स होते हैं जिसे करके वह अपना करियर बना सकता है। जैसे fashion designing, healthcare, skin care इत्यादि।

आईटीआई में सबसे ज्यादा चुने जाने वाले पाठ्यक्रम

आईटीआई में बहुत से कोर्स होते हैं जो कि Engineering और Non-Engineering होते हैं। परंतु इनमे से कुछ कोर्स ऐसे भी होते हैं। जिन्हें छात्र ज्यादा पसंद करते हैं, जो इस प्रकार है।

  • Electrical
  • Turner
  • Fitters
  • Welder
  • Wireman
  • Plumber
  • Electrician
  • Hair And Skins Care
  • Book Binder
  • Pattern Maker
  • Network Technician
  • Mechanic Motor Vehicle (MMV)
  • Stenography (English, Hindi)
  • Computer Operator And Programming Assistant (COPA)

ITI Course करने के बाद नौकरी करने की बेस्ट अवसर

आईटीआई का कोर्स कंप्लीट होने के बाद जॉब (Job) की टेंशन प्रत्येक छात्र का विषय बन जाता है कि नौकरी कैसे मिले लेकिन एक बार आईटीआई का कोर्स पूरा करने के बाद आईटीआई का डिप्लोमा मिल जाता है तो नौकरी के अधिकांश अवसर हो जाते हैं क्योंकि हम प्राइवेट व सरकारी दोनों में कार्य कर सकते हैं इसके लिए आपको ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों में ही ट्राई करना चाहिए जो कि इंटरनेट के थ्रू बहुत सी जॉब अलर्ट वेबसाइट मिल जाती हैं जहां पर आप जाकर रजिस्टर कर सकते हैं और सभी लेटेस्ट जॉब की जानकारी ले सकते हैं और वहां पर आप अपना रिज्यूम में भी अपडेट कर दें जिससे कंपनी वालों को आप की प्रोफाइल अगर अच्छी लगती है तो वह आपको डायरेक्ट ईमेल  कॉल करता है जिससे चांस काफी बढ़ जाते हैं

यहां पर हम कुछ famous job alert site बता रहे हैं जहां आप sign-up कर सकते हैं

  • Naukri.com
  • Monster.com (India)
  • Timesjob.com
  • Shine.com

ITI करने के बाद सैलरी (Salary)

आईटीआई जॉब में यदि हम सैलरी की बात करें तो यह हमारी स्किल और एक्सपीरियंस पर निर्भर करती है। सैलरी फिक्स नहीं होती है। परंतु अगर आपने ITI का Course कर लिया है तो 8000 से 10000 तक शुरुआत में मिल जाती है।और एक्सपीरियंस होने के बाद सैलरी भी बढ़ जाती हैं। और यह भी डिपेंड करता है कि किस field में आपकी नौकरी लगती हैं।

निष्कर्ष – ITI ka Full Form Hindi me

हम आशा करते हैं कि अब आपको पता हो गया होगा कि आईटीआई (ITI) क्या होती है, ITI का Full Form क्या होता है, आईटीआई का पाठ्यक्रम हिंदी में क्या होता है और इसके पाठ्यक्रम व ट्रेड क्या है संपूर्ण जानकारी मैंने इस लेख के द्वारा बताई है फिर भी अगर कोई सवाल व doubt आपके मन में है तो हमें आप कमेंट के जरिए पूछ सकते हैं।

यदि आपको यह post “ITI KA Full Form Hindi me” पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Media Networks जैसे कि Facebook, Twitter और दुसरे Social sites पर जरूर share करें !

Next articleOK का फुल फॉर्म क्या है?
मेरा नाम Seema Verma है, मैं Lucknow की रहने वाली हूँ, ब्लॉग लिंखना मुझे अच्छा लगता है ताकि मैं विभिन्न प्रकार की Internet और Technology से जुड़ी जानकारियाँ लोगों में शेयर कर सकूँ इसलिए मैं आशा करती हूँ कि मेरे द्वारा लिखी गयी Blog Post आप लोगों को पसंद आयेगी। अगर आप मुझसे जुड़ना चाहते हैं। हमें मेल करे.

11 COMMENTS

  1. You can definitely see your enthusiasm in the article you write.
    The arena hopes for even more passionate writers such as you who aren’t afraid to mention how they believe.
    Always follow your heart.

  2. Just wish to say your article is as astonishing. The clarity in your post is simply cool and i can assume you’re an expert on this subject.

    Well with your permission let me to grab your feed to keep updated with
    forthcoming post. Thanks a million and please keep up the rewarding work.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here