Technical SEO क्या है और कैसे करें – Technical SEO in Hindi

जब भी हम लोग SEO की बात करते हैं तो हमारे दिमाग में दो चीजें सबसे पहले आती हैं वो हैं – Off Page SEO और On Page SEO. 

लेकिन किसी भी ब्लॉग और वेबसाइट कि पोस्ट को Rank कराने के लिए Technical SEO करना बहुत ही आवश्यक है क्योंकि इसकी help से हम अपने website pages को बहुत जल्दी search engine में top पर Rank करा सकते हैं. 

Technical SEO भी SEO (search engine optimization) का एक पार्ट है. लेकिन क्या आपको पता है कि अगर किसी website का Technical SEO सही से optimize नहीं है तो इससे उस साइट के Off-Page और On-Page SEO पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है उनकी overall performance सर्च इंजन में काफी कम हो जाती है. Technical SEO in Hindi के बारे में जानने से पहले हम लोग थोड़ा सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन के बारे में जान लेते हैं कि आखिर SEO यह क्या है.

Search Engine Optimization क्या है?

Search Engine Optimization को शॉर्ट फॉर्म में SEO कहते है और SEO करके हम अपनी Website या ब्लॉग को Search Engine के लिए Optimize करते हैं ताकि कोई भी Search Engine crawler हमारी Website के content को सही तरीके से Crawl और Index करके उसे  search engine में टॉप पर rank कर सके.

Search Engine में ब्लॉग को SERP (Search Engine Result Page) में show कराने के लिए उसका SEO सही ढंग से करना बहुत जरूरी है किसी भी blog को टॉप में लाने के लिए quality backlink, social sharing, brand mentions और domain authority आदि का महत्वपूर्ण योगदान होता है.

SEO के प्रकार – Types of SEO

SEO क्या है और कैसे कार्य करता है यह जानने के बाद चलिए अब जानते हैं कि SEO के कितने प्रकार होते है. Types of SEO की बात करें तो SEO को मूलतः 3 भागों में विभाजित किया गया हैं.

1. On-Page SEO

2. Off-Page SEO

3. Technical SEO

SEO के प्रकार जानने के बाद आज हम इस पोस्ट में Technical SEO के बारे में detail में जानेगे कि Technical SEO क्या है और कैसे करते हैं.

Technical SEO Kya Hai

Technical SEO क्या है? What is Technical SEO in Hindi

“अपनी website को Google में top position पर रैंक करवाने के लिए जो भी technical changes हम website के लिए करते हैं तो इस optimzation प्रोसेस को हम Technical SEO कहते हैं.” 

Technical SEO में Non-content फैक्टर्स को optimise किया जाता है, Technical SEO में हम website के backend पर काम करते हैं और वेबसाइट की Readability, Load time, User experience (UX) और UI आदि को improve करने की कोशिश करते हैं, वैसे माने तो Technical SEO, On-Page SEO का हीं एक Part है.

Technical SEO में website या blog को सर्च इंजन फ्रेंडली बनाया जाता है ताकि Google search engine आपकी वेबसाइट को अच्छे से crawl और फ़ास्ट index कर सके.

वेबसाइट का Technical SEO करते समय Site speed पर जायदा ध्यान दिया जाता है और वेबसाइट को Fast loading और Responsive बनाया जाता है, Structured data को अच्छे से implement करते है, वेबसाइट की सिक्योरिटी को Improve किया जाता है, वेबसाइट को SEO फ्रेंडली तथा mobile friendly बनाया जाता है.

Technical SEO कैसे करें

अपनी website का technical SEO करते समय नीचे बतायी गयी कुछ techniques का इस्तेमाल करके आप भी Technical SEO optimization अच्छे से कर सकते हैं .

1. Speed Up Your Website

यदि हम Page speed की बात करें तो यह user और search engine के हिसाब से बहुत ही important factors में से एक है 

क्योंकि जो वेबसाइट 3 से 4 सेकंड के अंदर नहीं खुलती है तो user उसे छोड़कर दूसरी website पर चला जाता है तो यह search engine की दृष्टि कोण से यह सही नहीं होता है और सर्च इंजन समझ जातें की आपकी website अच्छे से optimise नहीं है और इससे आपकी ranking में बहुत बुरा असर पड़ता इसलिए अपनी वेबसाइट की स्पीड हमेशा अच्छी रखनी चाहिए. 

नीचे दी गयी tips को use करके आप website की speed fast कर सकते हैं.

  • Light weight fast theme का इस्तेमाल करें जो load time को कम करे
  • जरूरी plugins का ही इस्तेमाल करें
  • Images का size कम से कम रखें
  • WP super cache या W3 Total cache plugins का इस्तमाल करें
  • Best speed के लिए क्लाउड होस्टिंग का इस्तेमाल करे

2. Mobile-Friendly Site

आपकी site मोबाइल और tablet device पर अच्छे से display होना चाहिए इसके लिए आपको बेस्ट responsive website theme का use करना चाहिए क्योंकि Google इन्हे अपने search results में वरीयता देता है. 

3. SSL (HTTPS) का उपयोग करे

इसके लिए हम HTTPs का करते हैं यह एक प्रकार का secured protocol है, by default site HTTP पर चलती है जो की सुरक्षित नही होती है. इसके लिए आपको SSL install करना पड़ता है.

4. SEO Friendly URL Structure

अपनी website का url छोटा और simple रखें. उसमें focus keyword का use करना SEO optimization के लिहाज से अच्छा रहता है. 

5. Schema Markup

अपनी website को Google के features snippet, product review and ratings और people also ask for बॉक्स में feature करने के लिए आप Schema Markup का प्रयोग कर सकते हैं

6. Rebots.txt फाइल को optimize करें

यह एक txt फाइल होती है है जिसमे कुछ instruction codes लिखे होते हैं जो की Serach Engine को बताते हैं कि कौन से page या folder को crawl करना है और किसे नहीं.

7. XML Sitemaps

हमें अपनी वेबसाइट के लिए XML Sitemaps बनाना होता है और इस Sitemaps को सर्च इंजन में submit करना होता है, यह एक XML फाइल होती है जिसमें आपकी वेबसाइट के सभी पेज Link मौजूद होते हैं.

8. Set Preferred Domain Name

किसी site को www vs non-www दोनों तरह से access किया जा सकता है. हालांकि ये दोनों चीजें एक ही वेबसाइट को point करती हैं मगर सर्च इंजनों की नज़रों में ये दोनों websites अलग-अलग हो जाती हैं इसलिए हमें कौन-से version को serach engine दिखाना वो permanent (301) redirect के जरिए कर सकते हैं . 

9. Minify JAVASCRIPT and CSS

इस Step में हमें अपनी वेबसाइट की JAVASCRIPT और CSS को Minify करना है जिससे कि हमारी वेबसाइट का load time कम होगा और हमारी वेबसाइट fast load होगी.

10. 404 (Page Not Found) Error Optimization

सबसे पहले हमें अपनी website में 404 Page Not found Link ढूंढना है और उसे 301 Permanant Redirection की मदद से किसी पेज या उसी से रिलेटेड पेज में redirect करना है.

11. Remove Duplicate content

यदि आप website में डुप्लीकेट कंटेंट पोस्ट करने से बचें क्योंकि सर्च इंजन duplicate content को पसंद नहीं करते और न ही उसे search engine result pages में Rank करते हैं. Duplicate content की वजह से आपकी website penalize भी हो सकती है.

12. Remove Bad Backlinks

यदि किसी वेबसाइट में Low quality backlinks फिर Bad quality irrelevant backlink बहुत ज्यादा बन गए हैं तो हमें उन सभी Bad Backlinks को Disavow Tool की मदद से remove कर dena चाहिए. वरना आपकी website सर्च इंजन द्वारा penalize हो सकती है. 

13. AMP (Accelerated Mobile Pages)

Mobile Phones पर website को जल्दी से load करने के लिए बनाई गई AMP technique का इस्तेमाल करने से साइट के Technical SEO पर positive impact पड़ता है. AMP के उपयोग के लिए आप अगर wordpress की website चलाते हो तो AMP का Plugin Install कर सकते हो. 

Conclusion – Technical SEO क्या है (What is Technical SEO in Hindi)

मुझे उम्मीद है कि आप लोगों को हमारे द्वारा लिखी गई पोस्ट TechnicalSEO क्या है (What is TechnicalSEO in Hindi) और टेक्निकल SEO कैसे करते है जरूर समझ आयी होगी फिर भी अगर आप लोगों को कोई डाउट या प्रश्न हैं तो आप कॉमेंट के जरिए पूछ सकते हैं और ज्यादा से ज्यादा इस पोस्ट को Facebook, Twitter, Instagram और other सोशल मीडिया साइट पर शेयर कीजिए.

Previous articleOn Page SEO क्या है और कैसे करे – On Page SEO in Hindi 2021
मेरा नाम Seema Verma है, मैं Lucknow की रहने वाली हूँ, ब्लॉग लिंखना मुझे अच्छा लगता है ताकि मैं विभिन्न प्रकार की Internet और Technology से जुड़ी जानकारियाँ लोगों में शेयर कर सकूँ इसलिए मैं आशा करती हूँ कि मेरे द्वारा लिखी गयी Blog Post आप लोगों को पसंद आयेगी। अगर आप मुझसे जुड़ना चाहते हैं। हमें मेल करे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here